स्पिन ट्रैक को लेकर कुंबले-कोहली दुविधा में: दूसरा टेस्ट

स्पिन ट्रैक को लेकर कुंबले-कोहली दुविधा में: दूसरा टेस्ट

69
0
SHARE
kumble-kohli-Zuban.in

अपनी कुंबले-कोहली की जोड़ी परेशान है। दुविधा उनका पीछा ही नहीं छोड़ रही। यह दुविधा साउथ अफ्रीका के खिलाफ नहीं थी। न्यूजीलैंड के खिलाफ भी कहीं कोई दुविधा नहीं आई। शायद आने वाले वक्त में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी यह दुविधा खड़ी हो। लेकिन कुकसकलेन की जोड़ी आगे यह दुविधा उन्हें बुरी तरह परेशान कर रही है। पहला टेस्ट ड्रॉ कराने के बाद आखिर भारतीय टीम किस तरह की पिच बनाए? विशाखापट्टनम में गुरुवार से इंग्लैंड के खिलाफ दूसरा टेस्ट शुरू हो रहा है और अपनी टीम के लिए यह मामूली सवाल नहीं है।

अब अपनी टीम अजीब दुविधा में है। वह स्पिन के अलावा किसी हथियार से इंग्लैंड को हरा नहीं सकते। यह तो ठीक है कि अपनी टीम के पास तीन बेहतरीन स्पिनर हैं। वे इंग्लैंड को दो बार आउट तो कर लेंगे लेकिन सवाल तो यह है कि उस टर्निंग ट्रैक पर अपने बैट्समैन कैसे खेलेंगे। एक बार अपनी टीम इंग्लैंड से मात खा चुकी है। तब तो मॉन्टी पनेसर और ग्रायम स्वान ने भारतीयों को अपनी ही पिचों पर नचा दिया था। इस बार तो वे ज्यादा तैयारी के साथ आए हैं। उनके पास तीन स्पिनर हैं। इन तीनों की जड़ें पाकिस्तान में हैं। सकलेन के होने की वजह से उनमें एक अलग तरह का जोश नजर रहा है। सकलेन स्पिन की बेहतर स्ट्रैटजी बना सकते हैं। अच्छे ढंग से खेलना भी सिखा सकते हैं।

अब अपनी टीम को अश्विन ऐंड कंपनी पर तो भरोसा है लेकिन अपने बैट्समैन पर कतई नहीं है। पिछले दिनों अपने बैट्समैन स्पिन भी नहीं खेल पा रहे हैं। उन्हें अपने पर भरोसा भी नहीं है। ऐसे में कुंबले कोहली क्या करें? अब जो भी हो उन्हें जुआ तो खेलना ही होगा। स्पिन ट्रैक बनाना ही होगा। उसका क्या हश्र होगा? यह अपने बैट्समैन ही बता पाएंगे।

data-matched-content-rows-num="2" data-matched-content-columns-num="2" data-matched-content-ui-type="image_stacked">