??हँसी की पिचकारियाँ??

??हँसी की पिचकारियाँ??

114
0
SHARE
Lekh- zubaan

??चलो इस होली हँसी की पिचकारियां चलायें ??

? मुस्कराहट के गुब्बारें फुल्लायें?

खुशियों के रँग लगायें, मीठी बोली के मिष्ठान खिलायें

दिलों के वैर मिटायें ,किसी की ख़ुशी की वज़ह बन जायें

कुछ मनोरंजक बातें हो जायें कुछ चुटकले, कहानियाँ हो जायें

??हँस-हँस के लोट-पोट हो जायें ,???


 

data-matched-content-rows-num="2" data-matched-content-columns-num="2" data-matched-content-ui-type="image_stacked">