? देने के सिवा मुझे कुछ आता नहीं !!!!!?

? देने के सिवा मुझे कुछ आता नहीं !!!!!?

123
0
SHARE

एक दिन मैंने ?पुष्प? से पूछा ?
आकाश की छत मिट्टी की गोद
काँटों के बीच भी खिल जाते हो
हवा में ईत्र बन महकते हो
सबकी ख़ुशी का सबब बन जाते हो
उदास चेहरों पर खुशी ले आते हो
ख़ुशी हो या गम हर जग़ह उपयोग में
आते हो । अपने जीवन के छोटे से
सफ़र में बहुत काम आ जाते हो ।

Also Read: रामनवमी पर विशेष “प्राण जाये पर वचन ना जाये

??*पुष्प ने कहा क्या करूं *
मेरा स्वभाव ही ऐसा है मुस्कराने के
सिवा कुछ आता नहीं देने के सिवा
कुछ भाता नहीं **??????

Also Read: भगवान श्रीराम को मर्यादा पुरुषोत्तम क्यों कहा जाता है

data-matched-content-rows-num="2" data-matched-content-columns-num="2" data-matched-content-ui-type="image_stacked">